मेयर चुनाव से पहले बीजेपी का बड़ा आरोप- आप ने हमारे 10 पार्षदों को करोड़ों के ऑफर दिए

डीएमसी अधिनियम 1957 के अनुसार, महापौर और उप महापौर का चुनाव निकाय चुनावों के बाद होने वाले पहले सदन में होता है। बहरहाल, नगर निकाय चुनाव हुए दो महीने हो चुके हैं और दिल्ली को अभी मेयर मिलना बाकी है। सोमवार को यह प्रयास सफल होता है या नहीं यह जानने के लिए पढ़ें पल-पल
 | 
मेयर चुनाव से पहले बीजेपी का बड़ा आरोप- आप ने हमारे 10 पार्षदों को करोड़ों के ऑफर दिए

डीएमसी अधिनियम 1957 के अनुसार, महापौर और उप महापौर का चुनाव निकाय चुनावों के बाद होने वाले पहले सदन में होता है। बहरहाल, नगर निकाय चुनाव हुए दो महीने हो चुके हैं और दिल्ली को अभी मेयर मिलना बाकी है। सोमवार को यह प्रयास सफल होता है या नहीं यह जानने के लिए पढ़ें पल-पल की अपडेट्स…
लाइव अपडेट

भाजपा का आप पर बड़ा आरोप
भाजपा ने महापौर चुनाव से पहले आम आदमी पार्टी पर गंभीर आरोप लगाए हैं। भाजपा नेताओं ने कहा कि महापौर उपमहापौर और स्थाई समिति के सदस्यों के चुनाव में वोट डलवाने के लिए आम आदमी पार्टी के नेताओं ने उनके 10 पार्षदों से संपर्क किया है, उन्हें करोड़ों रुपए का ऑफर दिया गया है। भाजपा नेताओं ने अपने सभी 10 पार्षद मीडिया के सामने पेश किए।

सिसोदिया ने भाजपा पर लगाया ये आरोप
सदन की कार्यवाही शुरू होने से पहले ही आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है। दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा कि, ‘बीजेपी ने अपने पार्षदों को आज फिर एमसीडी बैठक में मेयर चुनाव न होने देने के निर्देश दिए हैं बीजेपी पार्षदों को कहा गया है सदन शुरू होते ही किसी बहाने से हंगामा कर देना। पीठासीन अधिकारी पिछली बार की तरह फिर अनिश्चितकाल के लिए सदन स्थगित कर देंगी एलजी फिर से 20 दिन बाद की तारीख देंगे।’

क्या तीसरा प्रयास होगा सफल
पिछले दो प्रयासों में मतदान पूरा करने में विफल रहने के बाद दिल्ली के मेयर के चुनाव को लेकर दिल्ली नगर निगम सोमवार को बैठक के लिए तैयार है। एक बार फिर से उपराज्यपाल के दिशा-निर्देश पर छह फरवरी यानी आज सदन की बैठक बुलाई गई है, जिसमें माना जा रहा है कि महापौर, उप महापौर और 6 स्थाई समिति के सदस्यों का भी चुनाव होगा। हालांकि आज सदन की बैठक शुरू होने से पहले ही आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो चुका है।